HomeCountryराजस्थान में 16-17 जून को दिखेगा बिपरजॉय का असर

राजस्थान में 16-17 जून को दिखेगा बिपरजॉय का असर

राजस्थान में 16-17 जून को दिखेगा बिपरजॉय का असर

अरब सागर में बने चक्रवात बिपरजॉय के गुजरात के नजदीक आते ही राजस्थान प्रशासन सतर्क हो गया है। साइक्लोन की इंटेंसिटी को देखते हुए सिरोही, बाड़मेर, जालोर समेत 8 से ज्यादा जिलों के लिए मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। इसे देखते हुए जिला प्रशासन ने भारी बारिश से बचाव की तैयारियां शुरू कर दी है। मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक राजस्थान में इसका सबसे ज्यादा असर 16-17 जून को देखने को मिलेगा।

तूफान की आशंका को देखते हुए बाड़मेर में राहत-बचाव की टीमों को अलर्ट पर रखा गया है। जयपुर से भी अधिकारी तैयारियों पर नजर रख रहे हैं। विशेषज्ञों के मुताबिक ये चक्रवात कल दोपहर या शाम के बाद गुजरात-पाकिस्तान के तटों से टकराएगा। गुजरात में धरातल पर टकराने के बाद ये कमजोर पड़ेगा। आगे बढ़ता हुआ राजस्थान में प्रवेश करेगा। हालांकि राजस्थान में आते-आते ये साइक्लोन लो-प्रेशर एरिया में तब्दील होगा। इसके कारण यहां 45 से 60KM प्रति घंटा की स्पीड से तेज हवा चलेगी। गुजरात-पाकिस्तान के तटों से टकराएगा बिपरजॉय तूफान।

बाड़मेर, जालोर में ज्यादा असर

मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक साइक्लोन ने जो थोड़ा-सा कर्व लिया है, उसके कारण इसकी दिशा अब पाकिस्तान की तरफ भी हो गई है। इस कारण कराची और गुजरात से लगते हिस्सों में इसका असर वहां ज्यादा होगा। यही कारण है कि अब राजस्थान के बाड़मेर, जालौर जिलों में 16 और 17 जून को भारी से अतिभारी बारिश होने के आसार हैं। यहां जिला प्रशासन ने सिविल डिफेंस और एसडीआरएफ को तैयारियां रखने के निर्देश दिए हैं।

मैप से समझिए तूफान का रूट

IMD की तरफ से जारी किए गए मैप के मुताबिक तूफान अब जखौ पोर्ट से 280 किमी पश्चिम-दक्षिण-पश्चिम में है।

जयपुर में मीटिंग बुलाई गई

बिपरजॉय तूफान से आने वाली आपदाओं से निपटने के लिए मुख्य सचिव ने आज सचिवालय में मीटिंग बुलाई है। इस तूफान से सभी प्रभावित जिलों के कलेक्टर्स से तैयारियों का फीडबैक लिया जा रहा है। इस बैठक में डिजास्टर मैनेजमेंट के सचिव, भारतीय सेना मुख्यालय, जयपुर सब एरिया के कर्नल, SDRF के कमाण्डेंट, NDRF के सहायक कमाण्डेंट, मौसम केन्द्र जयपुर के अधिकारी के अलावा कृषि विभाग और सिविल डिफेंस के अधिकारी भी शामिल हुए।

एडवेंन्चर ट्यूरिज्म और महंगाई राहत कैंप पर तीन दिन की रोक

मुख्य सचिव ऊषा शर्मा की अध्यक्षता में हुई बैठक में बिपरजॉय प्रभावित जिलों में सरकार ने एडवेन्चर टूरिज़म पर रोक लगाने का निर्णय किया है। इसके साथ ही तूफान की स्थिति में प्रभावित क्षेत्रों में महंगाई राहत कैंप स्थगित रहेंगे। ये रोक 16 से 18 जून तक रहेगी।

सरकार ने मौसम विभाग से जारी एडवाइजरी बाड़मेर, जालौर, जैसलमेर, जोधपुर, पाली, नागौर, बीकानेर, अजमेर, राजसमंद, सिरोही और उदयपुर जिलों के लिए चेतावनी जारी की है। वहीं एसडीआरएफ की 8 कंपनी जयपुर, कोटा, भरतपुर, उदयपुर, अजमेर, जोधपुर-बीकानेर में रहेगी तैनात रहेगी। एक कंपनी अजमेर में एनडीआरएफ की तैनात की गई है।

ये भी पढ़े – जलदाय विभाग (Water Supply Department) में घपले का मामला

इससे जुड़ी ख़बरें
- Advertisment -

Most Popular