HomeCountryबस चालक (Bus Driver) की पीट-पीटकर हत्या का मामला

बस चालक (Bus Driver) की पीट-पीटकर हत्या का मामला

बस चालक (Bus Driver) की पीट-पीटकर हत्या का मामला

जिले के श्रीबालाजी बस स्टैंड पर कैंपर गाड़ी में सवारियां बैठाने को लेकर हुए विवाद के बाद बस चालक (Bus Driver) की पीट-पीटकर हत्या करने के मामले में जिला पुलिस द्वारा फरार चल रहे नौ अभियुक्तों पर इनाम की घोषणा की गई है। इनमें तीन अभियुक्तों पर 25 हजार रुपए तथा छह अभियुक्तों पर 15 हजार रुपए इनाम रखा गया है।

एसपी राममूर्ति जोशी ने बताया कि 28 नवम्बर को बीकानेर में देशनोक थाना क्षेत्र के पलाना निवासी बस चालक (Bus Driver) सहीराम जाट ने श्रीबालाजी थाने में रिपोर्ट देकर बताया कि वह बस पर कंडक्टर का कार्य करता है तथा उक्त बस का ड्राइवर भींयाराम है। उनकी बस बीकानेर से जोधपुर के लिए प्रतिदिन चलती है। 27 नवम्बर को सुबह 11.25 बजे वे बस लेकर श्रीबालाजी बस स्टैण्ड पर पहुंचे। वह गाड़ी से सवारियों को उतारने व चढ़ाने का काम कर रहा था, तो गाड़ी के पास साइड में दो कैम्पर गाडिय़ां आई। जिसमें सथेरण निवासी रामधन बिश्नोई, मनोज बिश्नोई, भगवानाराम विश्नोई, कैलाश विश्नोई, हड़मानराम बिश्नोई, जयकिशन धारणियां, बंधड़ा निवासी रामूराम जाट, मुनीराम राजपूत, करणीसिंह, रतिराम जाट सहित 7-8 अन्य लोगों ने बस चालक भींयाराम व उसके साथ मारपीट की, जिससे भींयाराम की मृत्यु हो गई।

एसपी जोशी ने बताया कि मामले में थाना पुलिस द्वारा अब तक मामले में अब तक पुलिस द्वारा चार आरोपियों मनोज, रामधन, कैलाश और हडमान राम को गिरफ्तार किया जा चुका है। अब घटना में फरार चल रही नौ अन्य अभियुक्तों पर इनाम की घोषणा की गई है। थाना नोखा जिला बीकानेर निवासी रामु राम जाट पुत्र पुरखा राम और थाना श्रीबालाजी नागौर निवासी जय किशन विश्नोई पुत्र भींयाराम व जगदीश बिश्नोई पुत्र शंकर लाल पर 25 हजार इनाम रखा गया है।

इसी प्रकार करनेतपुरा थाना श्रीबालाजी निवासी मनोहर सिंह उर्फ मुन्नी राम उर्फ सुमेर सिंह राजपूत पुत्र स्वरूप सिंह तथा सथेरन थाना श्रीबालाजी निवासी भगवानाराम बिश्नोई पुत्र रणजीत राम, रति राम जाट पुत्र रामूराम, करणी सिंह राजपूत पुत्र अचल सिंह, सुभाष विश्नोई पुत्र श्रवण राम और हेतराम विश्नोई पुत्र बीरू राम पर 15-15 हजार का इनाम घोषित किया गया है।

ये भी पढ़े – करोली जिला (Karoli District) उपभोक्ता विवाद प्रतितोष आयोग का महत्वपूर्ण निर्णय

इससे जुड़ी ख़बरें
- Advertisment -

Most Popular